असेम्बली भाषा क्या होती है - Assembly Language In Hindi - Hindi-Blog

Assembly Language in hindi :- कभी न कभी आप ने Machine Language / Binary Code के बारे में सुना ही होग, जिसमे की 0, 1 का उपयोग किया जाता था. 

Machin Language बहुत हार्ड हुआ करते थे क्यूकी उसमे सिर्फ दो ही अंक का यूज़ किया जाता था 0,और 1 का इसी सम्सया को देखते हुए 

कंप्यूटर वैज्ञानिको ने Assembly Language का निर्माण किया जिससे की किसी भी Program को आसानी से  लिखा और समझा जा सके.  

Assembly Language में अक्षर, सिम्बल्स, नंबर का उपयोग किया जाता था. जिससे कोई भी व्यक्ति आसानी से समझ सके. Assembly Language भी कुछ कुछ मशीनी भाषा की तरह ही होता है.


Assembly Language in Hindi - hindi o blog



What is Assembly


अगर हिंदी में इसका मतलब निकाले तो असेंबली का अर्थ होता है " सभा " लेकिन हम यहां पर असेंबली लैंग्वेज के बारे में पढ़ने वाले हैं । असेंबली एक कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज होता है, यह High level programming language and machine language की बीच की भाषा है । भाषा को हम आसानी से समझ नहीं सकते । लेकिन मैं आपको एक उदाहरण के द्वारा इस भाषा को समझाने का प्रयत्न करता हूं ।

Read More :- Scheduling in hindi.

मान ले लीजिए हम नोटबुक पर कुछ लिखना चाहते हैं । लिखने के लिए हमारे पास तीन चीजों का होना आवश्यक होता है । पहला पेन, दूसरा नोटबुक, और तीसरा लिखने वाला, अगर हमारे पास पेन ना हो तो लिखने का कार्य नहीं होगा । ठीक इसी तरह असेंबली लैंग्वेज भी है । Assembly language high level language and low level language दोनों के बीज की भाषा है ।


Assembly Language in Hindi - परिभाषा



वह Programing Language जिसमे Machine Language में प्रयुक्त अंको के स्थान पर अक्षर और चिन्हों का प्रयोग किया जाता हैं, 

Assembly Language या Symbolic Language कहलाती है.  Assembly Language में Machini Code के स्थान पर " नेमोनिक कोड " का उपयोग किया गया, जिन्हें एक आम आदमी भी आसानी से समझ सकता था.


जैसे कुछ Assembly Language की भाषा Tran(Translation), JMP(Jump), LDA यानी ( Load ) ADD, SUB, ऐसे ही और भी Codes है 

जिन्हें आसानी से समझा या याद रखा जा सकता है. इसमे Assembly Code को Machini Code में बदलने के लिये एक Computer में एक Program पहले से ही बनाया गया है, 

यह एक ट्रांसलेटर की तरह कार्य करता है. जो Assembly से Machini Code को परिवर्तन करता है. जैसे की Google Transter करता है.

Assembler का क्या कार्य है । 


असेंबलर का काम एक ट्रांसलेटर की तरह होता है । कैसे..? असेंबलर असेंबली भाषा में लिखे गए प्रोग्राम को मशीनी भाषा में परिवर्तित या ट्रांसलेट करता है । असेंबलर का कार्य एक ट्रांसलेटर की तरह होता है ।

Example :- असेम्बलर, एसेम्बली भाषा में लिखे प्रोग्राम को मशीन कोड में अनुवादित (Translate) करता है । सोर्स कोड और object Code ट्रांसलेट करता है । 


असेंबली लैंग्वेज में ध्यान देने वाली बातें :- assembly language mein likhe Gaye program Ko ( Mnemonic Code ) kaha jata hai । और असेंबलर सिस्टम सॉफ्टवेयर के अंदर आता है । 

Read Also :- Scheduling Criteria in Operating System in Hindi


History of Assembly Language in Hindi


सबसे पहले Mnemonic Code का उपयोग सन 1955 स्टेन पोली ने आईबीएम 650 कंप्यूटर के लिए भाषा लिखी थी । तब से लेकर assembly language या Mnemonic Code का उपयोग किया जाने लगा । उस समय में प्रोग्राम देखने के लिए Mnemonic Code का ही उपयोग किया जाता था । Assembly language ko IBM mainframe software. बनाने के लिए भी उपयोग किया गया था ।
Microcomputers मैं ज्यादातर hand-coded assembly languages. पर निर्भर होते थे । यह माइक्रो कंप्यूटर पर उपयोग के लिए उच्च स्तरीय भाषा की कमी के कारण था ।

इस अवधि के दौरान, कई बड़े भाषाओं में लिखे गए थे, जिनमें लोटस 1-2-3 और आईबीएम पीसी डॉस ऑपरेटिंग सिस्टम शामिल थे ।  कई वीडियो गेम assembly languages में भी लिखे गए थे , यहां तक ​​कि 1990 के दशक के दौरान खेल एनबीए जैम, उस समय (1993) बहुत ही फेमस गेम हुआ करता था ।


1980-1990 के दशक में अधिकांश कंप्यूटर मुख्य रूप से असेंबली भाषा का उपयोग करके computer के लिए सॉफ्टवेयर बनाए जाते थे । एक उदाहरण के लिए हम ले लेते हैं Atari ST and the MSX systems assembly language बनाए गए सॉफ्टवेयर है । The VIC 20 system Don French के द्वारा असेंबली लैंग्वेज में लिखा गया था और इसको पब्लिश करने वाले French Silk थे । 

Read Also :- Best Motivational Picture with Deep Meaning - One Picture Million Words


Assembly Langauge in hindi - विशेषताए 




1. अंको के स्थान पर नेमोनिक कोड को आसानी से समझा जा सकता है.


2. Assembly Language में गलतियों को सरलता से ढूंढ जा सकता है और उसे ठीक भी कर सकते है.


3. इस प्रोग्रामिंग भाषा में का समय लगता है. जिससे की हमे प्रोग्राम बनाने में आसानी होती है.


4. इस प्रोग्रामिंग भाषा में मशीनी भाषा के अनेक विशेसताए पाए जाते है.


5. Assembly Language एक Low Level Language है.


Assembly Language in hindi - सीमाएं।  



1. इस प्रोग्रामिंग भाषा में प्रत्येक निर्देशो को चिन्हों और संकेतो में दिया जाता है, और इसमे Codes का ट्रांसलेशन मशीनी भाषा में होता है. तो यह भाषा भी Hardware पर निर्भर करती है. और इसमे ALU और Control Unit के लिये अलग प्रोग्राम लिखना पड़ता है.


2. किसी भी प्रोग्रामर को अगर इसमे प्रोग्राम लिखना है तो उसे hardware की पूरी जानकारी होनी चाइये. तभी वह इसमे प्रोग्राम लिख सकता है नही तो इसमे बार बार error शू करता रहे गया.

Read Also :- Computer Network क्या है? - Network से आप क्या समझते है?


Assembly Code Examples


इनमे जो कोड आपको नीचे दिख रहा है वह एक Calculator का Assembly Language में Programing Code है.



Assembly Language Program Calculator



       PAGE    ,132
       TITLE   CALC
CGROUP       GROUP   CODESEG
CODESEG        SEGMENT PARA PUBLIC 'CODE'
       ASSUME  CS:CGROUP,DS:CGROUP,ES:CGROUP
       PUBLIC  CALC

       ORG     100H

CALC       PROC    FAR
       JMP     START

;---------------------------------------------------------------------;
;      ;
;     DATA AREA      ;
;      ;
;---------------------------------------------------------------------;

       DB      'INTERRUPT NUMBER ='
INT_NUMBER     DB      61h

SCREEN_HANDLE  DW      0001h

MESSAGE        DB      'PEMATH is not resident',13,10
MESSAGE_LEN    EQU     $-MESSAGE

TAG       DB      'PEMATH'
TAG_LEN        EQU     $-TAG

;---------------------------------------------------------------------;
;      ;
;     CODE AREA      ;
;      ;
;---------------------------------------------------------------------;

START:
;---------------------------------------------------------------------;
;    TEST FOR PRESENCE OF CALCULATOR      ;
;---------------------------------------------------------------------;
       SUB     AX,AX
       MOV     ES,AX
       SUB     BH,BH
       MOV     BL,INT_NUMBER
       SHL     BX,1
       SHL     BX,1
       MOV     DI,ES:[BX]
       MOV     ES,ES:[BX+2]
       ADD     DI,4
       LEA     SI,TAG
       MOV     CX,TAG_LEN
REPE  CMPSB
       JE      CALL_CALC
       MOV     BX,SCREEN_HANDLE
       MOV     CX,MESSAGE_LEN
       LEA     DX,MESSAGE
       MOV     AH,40h
       INT     21h
       JMP     SHORT CALC_EXIT
;---------------------------------------------------------------------;
;    CALL CALCULATOR      ;
;---------------------------------------------------------------------;
CALL_CALC:
       MOV     AL,INT_NUMBER
       MOV     BYTE PTR INT_CODE,AL
       DB      0CDh  ; INT
INT_CODE:
       DB      00h
       NOP
       NOP

CALC_EXIT:
       INT     20h

CALC       ENDP

CODESEG        ENDS
       END     CALC


इसको समझना आपको तोड़ा मुश्किल लग रहा होगा. अगर आप धियान से देखो गए तो आपको कुछ कुछ हिस्सा आपको समझ में आ रहा होगा. 

अगर आप इस प्रोग्रामिंग language की प्रैक्टिस करँगे तो आपको यह और भी अच्छे से समझ मे आ सकता है.
Assembly Language in Hindi - Assembly Code Example

Conclusion - निस्कर्ष


Assembly Language को पहली बार लोगो के सामने सन 1949 में प्रदर्षित किया गया था, यह बहुत पूरी Language हो गई है और इसका उपयोग भी अभी न के बराबर होता है 

इनकी जगह अब बदल कर High Level Programing Languages ने ले लिया है जैसे की C, C++, Python, etc. है.


मैं आसा करता हु की आज आपको Assembly Language in hindi पसंद आया होगा. अगर आपका इस पोस्ट के बारे में कोई सवाल या सुझाव है 

तो आप हमे Comment Box में जरूर दे. आपका हमेसा सुवागत है हमारे इस ब्लॉग में.

इस वीडियो की मदद से आप असेंबली लैंग्वेज को आसानी से समझ सकते हैं 



Post a Comment

1 Comments

  1. Sir assembly language high level language hai ki low level language??

    ReplyDelete